शुरुआती के लिए ट्रेडिंग ट्यूटोरियल

स्विंग ट्रेडिंग कैसे शुरू कर सकते है?

स्विंग ट्रेडिंग कैसे शुरू कर सकते है?
और इस तरह स्टॉक मार्केट इन्वेस्टमेंट, लम्बे समय में आपको बेहतर लाभ देते है, हालांकि इस की कोई भी Guarantee नही दी जा सकती,

2023 में Trading कैसे शुरू करें

हेलो दोस्तों आज हम जाने वाले हैं कि आप trading कैसे कर सकते हैं अगर आपको Trading से पैसा कमाना है या फिर आप ट्रेनिंग की शुरुआत करना चाहते हैं 2023 में तो यह काफी अच्छा समय है trading करने के लिए आपके पास सिर्फ एक फोन की जरूरत है और इन्वेस्टमेंट जैसा कि हम सभी जानते हैं कि यह future में Trading काफी ज्यादा increase करेगा जिसने भी आज इन्वेस्टमेंट स्टार्ट कर दिया वह कल बैठकर खाएगा या फिर यूं कह सकते हैं कि वह कल आराम करेगा Trading बहुत ही आसान है बट इसमें रिस्क होता है अगर आपको trading सीखना है या अगर आपको Trading स्टार्ट करना है तो आप बिल्कुल सही जगह पर है

Trading एक कला आपको सिर्फ और सिर्फ Trading की कला को सीखना होगा अगर आप Trading की कला को सीख लेते हैं तो आप लाखों कमा सकते हैं लेकिन आपको Trading की कला को सीखना होगा Trading से लाखों कमाए जा सकता है लेकिन इसमें रिस्क बहुत ज्यादा होता है कभी भी Trading लोन के पैसों को लेकर ना करें अगर आप ऐसा सोच रहे हैं कि लोन लेकर आप Trading स्टार्ट कर सकते हैं तो आप ऐसा नहीं करें तो बेहतर होगा क्योंकि Trading में कुछ भी हो सकता है आपको लॉस भी हो सकता है

Trading एक जोखिम भरा खेल है ट्रेडिंग के लिए कोई भी शॉर्टकट नहीं है अगर आप यह सोच करना है कि आप ट्रेडिंग करेंगे शॉर्टकट ट्रिक्स है तो फिर बिल्कुल गलत है आज मैं आपको ट्रेडिंग के बारे में सटीक जानकारी दूंगा ना कि हां मैं आपको कोई ट्रिक बताने जा रहा हूं अगर आप यह सोच कर आए हैं कि मैं आपको कोई ट्रिक बता दूंगा जिससे आफ ट्रेडिंग में लाखों कमा लेंगे पहले दिन ही तो आप बिल्कुल गलत जगह पर है

और हम बात करें ट्रेडिंग की पावर की तो ट्रेडिंग में बहुत ही ज्यादा पावर है अगर आपके पास ट्रेडिंग की अच्छी नॉलेज हो जाता है तो आप 1 घंटों में यह लाखों रुपए कमा सकते हैं अगर आपके पास लाखों रुपए पड़े हैं तो आप ट्रेडिंग से लाखों रुपए गवा सकते हैं

Share Market Me Trading Kaise Kare 2023 ?

अगर आप शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करना चाहते हैं तो आपके पास शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करने के लिए आपके पास शेयर क्या है, शेयर मार्केट क्या है, डीमेट अकाउंट क्या होता है, ट्रेडिंग अकाउंट क्या होता है, ट्रेडिंग क्या है, ट्रेडिंग कैसे करते हैं, इंट्राडे ट्रेडिंग क्या है, स्कैल्पिंग ट्रेडिंग क्या है, स्विंग ट्रेडिंग क्या है आदि कि पूरी जानकारी होनी चाहिए.

अगर आपके पास है इन सभी चीजों पर जानकारी है तो आप ट्रेडिंग स्टार्ट कर सकते हैं 2023 में और 223 में ट्रेनिंग करके बहुत सारा पैसा कमा सकते हैं हम ट्रेडिंग में सिर्फ आपको नॉलेज होना चाहिए अगर विपक्ष नॉलेज है तो आप रुपए कमा सकते हैं

Share Kya Hai 2023?

ट्रेडिंग करने से पहले आपको यह समझना होगा कि शेयर क्या होता है जब कोई भी व्यक्ति या संस्थान अपनी कंपनी में निवेश बढ़ाने के लिए अपनी कंपनी के मालिकाना हक को लोगों को बेचता है तो उसे हम लोग शेयर कहते हैं अब हर एक कंपनी का अपना अपना ऐसे अरब का रेट होता है हरे कंपनी अपना अपना शेयर अलग-अलग दामों पर ही भेजती है जो किलो खरीद लेते हैं आप और जितना उस कंपनी को प्रॉफिट होता है उतना ही है उसके शेयर होल्डर को भी प्रॉफिट होता है

Share Market Kya Hai 2023 ?

तो चली आप जानते हैं कि शेयर मार्केट होता क्या है तो मैं आपको बता दूं कि शेयर मार्केट एक ऐसा जगह है जहां पर कंपनियां अपना शेयर भेजती हैं और लोग वहां पर शेयर खरीदते हैं

Demat Account Kya Hai 2023 ?

डीमैट अकाउंट बिल्कुल ही आसान है बनाना डीमेट अकाउंट बिल्कुल हमारे बैंक अकाउंट की तरह है जैसे कि हम लोग अपने बैंक अकाउंट में पैसे रखते हैं बिल्कुल उसी तरह डिमैट अकाउंट में हम लोग अपना शेयर रखते हैं जितने सारे शेर हम कर देंगे वह सभी शेयर डिमैट अकाउंट में होते हैं

Trading Account Kya Hai 2023 ?

ट्रेडिंग अकाउंट हमारे बैंक के चालू खाते की तरह होता है. जिस तरह हम चालू खाते का उपयोग पैसों का लेनदेन करने के लिए करते हैं.

ठीक उसी तरह ट्रेडिंग अकाउंट का उपयोग शेयर का लेनदेन करने के लिए किया जाता है

Trading Kya Hai 2023 ?

अगर मैं आपको बताऊं ट्रेडिंग के बारे में तो ट्रेडिंग एक व्यापार है जहां पर हम लोग किसी भी वस्तु को कम दाम पर खरीद कर उसको ज्यादा दाम पर बेच के जितना भी मुनाफा कमाते हैं इसी को हम लोग ट्रेडिंग कहते हैं

Trading Kaise Kare 2023 ?

रीडिंग करना बिल्कुल आसान है बिल्कुल अच्छे से ट्रेडिंग कर सकते हैं ट्रेडिंग करने के लिए आपके पास एक डीमैट अकाउंट है आप एक demate अकाउंट खोल सकते हैं अब डिमैट अकाउंट खोलना बहुत ही आसान है ट्रेडिंग में हम लोग कम दामों पर सेट को खरीद कर जब प्यार का दाम बढ़ जाता है तो उसे बेचकर मुनाफा कमाते हैं उसी को ट्रेडिंग कहते हैं

Share Market Trading Kaise Kare?

शेयर मार्केट में मुख्य रूप से तीन प्रकार की ट्रेडिंग ज्यादा होती हैं।

Intraday Trading Kya Hai ?

इंट्राडे ट्रेडिंग सबसे कम समय में किए जाने वाले ट्रेडिंग है इसमें शेयर मार्केट खुलने के टाइम शेयर को खरीदते हैं और शेयर मार्केट बंद होने के टाइम बेचकर इसके बीच में जितना भी मुनाफा कमाया जाता है उसको इंट्राडे ट्रेडिंग कहा जाता है शेयर मार्केट रोज सुबह 9:15 पर खुल जाती है और दोपहर में 3:30 पर बंद हो जाती है. हमें इंट्राडे ट्रेडिंग करने के लिए सुबह 9:15 से लेकर 10:00 के बीच में शेयर को खरीदना होता है.

ताकि हम शेयर को कम से कम दाम पर खरीद सकें और 3:00 से लेकर 3:20 तक 20 मिनट के अंदर अंदर हमें शेयर को हर हाल में बेचना होता है.

और कुछ इस तरीके से की जाने वाली ट्रेनिंग को इंट्राडे ट्रेडिंग कहा जाता है जिसमें एक ही दिन में शेयर को खरीद के और एक ही दिन में sell kr दिया जाता है

Scalping Trading Kya Hai ?

सकैलपिंग ट्रेडिंग इंट्राडे ट्रेडिंग की तरह ही एक दिन के अंदर की जाती है. लेकिन सकैलपिंग ट्रेडिंग को हम कुछ ही मिनट या घंटे के अंदर पूरा कर लेते हैं.

इसलिए मान लीजिए कि अगर आपने 9:15 पर ही शेयर मार्केट से शेयर खरीद लिए तो आपकी ट्रेडिंग 9:30 तक ही पूरी हो जाएगी.

इस तरह से हम कुछ ही मिनट के अंदर ज्यादा से ज्यादा पैसों के स्विंग ट्रेडिंग कैसे शुरू कर सकते है? साथ स्विंग ट्रेडिंग कैसे शुरू कर सकते है? ट्रेडिंग करते हैं और सकैलपिंग ट्रेडिंग का फायदा उठाकर ज्यादा से ज्यादा मुनाफा कमाते हैं.

Swing Trading Kya Hai ?

स्विंग ट्रेडिंग दोनों इंट्राडे ट्रेडिंग और सकैलपिंग ट्रेडिंग से बहुत अलग है. क्योंकि स्विंग ट्रेडिंग को हम 1 दिन या 1 हफ्ते या फिर 1 महीने के लिए करते हैं.

मेरी सबसे सबसे अच्छा ट्रेडिंग करने का तरीका है क्योंकि यहां पर हम लोग काफी लंबे समय तक अपने Share को hold कर सकते हैं यहां पर हम लोग कम से कम दामों पर शेयर खरीद के और उसके बढ़ने का इंतजार करते हैं और जब वह शेयर बढ़ जाता है तब हम उसको sell कर देते हैं

Conclusion

तो दोस्तों हम आशा करते हैं कि हमारे द्वारा समझाएं गई है या बताई गई बात आपको समझ में आई होगी अगर आपको कोई भी दिक्कत होता है या कोई आपका प्रश्न है तो आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं हम उस पर भी एक आर्टिकल लेकर आएंगे या हम आपको आपके ईमेल पर उस क्वेश्चन का आंसर दे देंगे तुमसे यही हमारी आज की जानकारी कि 2023 में ट्रेडिंग आप कैसे कर सकते हैं

डे ट्रेडिंग बनाम स्विंग ट्रेडिंग। आपको कौन सी शैली सबसे अच्छी लगती है?

डे ट्रेडिंग बनाम स्विंग ट्रेडिंग

विभिन्न ट्रेडिंग शैलियों मौजूद। आप उन सभी को जानना चाह सकते हैं। यह आपको यह निर्णय लेने में मदद करेगा कि आपको कौन सा पसंद है, कौन सा आपकी आवश्यकताओं के अनुरूप है और कौन सा आपको सबसे अधिक लाभ लाता है। आज, मैं दो शैलियों और उनके बीच के अंतरों के बारे में बात करूंगा। वे डे ट्रेडिंग और स्विंग ट्रेडिंग होंगे।

डे ट्रेडिंग बनाम स्विंग ट्रेडिंग

ट्रेडिंग के दोनों तरीके एक तरह से समान हैं, लेकिन कुछ आवश्यक अंतर हैं। आइए ट्रेडिंग फ्रीक्वेंसी, किए गए ट्रेडों की संख्या, समय सीमा, आपको इसे समर्पित करने के लिए आवश्यक समय और आप उनके साथ कैसे ट्रेड कर सकते हैं, इस पर चर्चा करते हैं।

दिन के कारोबार और स्विंग ट्रेडिंग के बीच मुख्य अंतर

आवृत्ति

डे ट्रेडिंग दिन के दौरान कई लेन-देन के खुलने और बंद होने पर आधारित है।

स्विंग ट्रेडर्स एक सप्ताह के दौरान कई लेन-देन खोलते हैं क्योंकि वे अक्सर एक पोजीशन को कई दिनों, हफ्तों या महीनों तक खुला रखते हैं।

किए गए ट्रेडों की संख्या

दिन के व्यापारी आमतौर पर अधिक लेनदेन खोलते हैं। वे एक पूरे दिन पर ध्यान केंद्रित करते हैं, इसलिए वे एक ही दिन में कई बार खरीदते और बेचते हैं। वे तेजी से लाभ की तलाश में हैं। अक्सर यह सुझाव दिया जाता है कि एक ही लेन-देन में अपनी कुल पूंजी का 1% से अधिक निवेश न करें। रिवॉर्ड-टू-रिस्क अनुपात 2:1 के साथ, यह अभी भी आपको बहुत अधिक जोखिम लिए बिना लाभ दिला सकता है।

ट्रेडों की संख्या

स्विंग ट्रेडर्स दिनों या हफ्तों में कम लेन-देन खोलते हैं। इसका मतलब है कि लाभ और हानि धीमी गति से आती है। फिर भी, आपके कुछ ट्रेडों के लिए तेजी से परिणाम प्राप्त करना संभव है।

समय क्षितिज

दिन के कारोबार के लिए कम समय के क्षितिज विशिष्ट हैं। सब कुछ एक दिन में होता है। व्यापारी कीमतों में दैनिक परिवर्तन पर किए गए छोटे मुनाफे को जमा करते हैं।

स्विंग ट्रेडिंग में खोले गए पोजीशन में लंबे समय के क्षितिज होते हैं। बाजार में बदलाव पर मुनाफा कमाने के लिए वे दिनों, हफ्तों या महीनों तक खुले रहते हैं।

समर्पित समय

हर प्रकार के व्यापार के लिए आपका ध्यान और समय चाहिए। हालांकि, आम तौर पर, दिन के कारोबार में आपके दिन के दौरान अधिक समय लगता है। आपको चार्ट तैयार करना चाहिए, संकेतक सेट करना चाहिए, पढ़ना चाहिए आर्थिक समाचार और इसी तरह। साथ ही प्रतिभूतियों को खरीदने और बेचने में लगने वाला समय। यानी औसतन 3 से 4 घंटे कंप्यूटर के सामने।

व्यापार में समय क्षितिज

स्विंग ट्रेडिंग के लिए कम सक्रिय समय की आवश्यकता होती है क्योंकि पोजीशन अक्सर लंबे समय के लिए खोली जाती है। तो आप व्यापार में प्रवेश करें और फिर केवल अपडेट करें या पाठ्यक्रम के नए अवसरों की तलाश करें।

ट्रेड कैसे करें

दिन के व्यापारियों और स्विंग व्यापारियों दोनों को ब्रोकर के साथ खाता खोलना होता है। फिर, एक अच्छे इंटरनेट कनेक्शन वाले कंप्यूटर की मदद से वे व्यापार कर सकेंगे। अंतर यह है कि उस दिन व्यापारियों को सबसे अद्यतित सॉफ़्टवेयर रखने की आवश्यकता होती है। कीमतें बहुत तेजी से बदल सकती हैं और इसलिए कुछ स्वचालन फायदेमंद है।

अपनी ट्रेडिंग शैली चुनेंआपको किस प्रकार का व्यापार चुनना चाहिए

दिन और स्विंग ट्रेडिंग के बीच निर्णय लेते समय आपको कई कारकों पर ध्यान देना चाहिए।

पहली आपकी उपलब्धता है। दिन के कारोबार में अधिक समय लगता है। स्विंग ट्रेडिंग आपको अधिक स्वतंत्रता देती है।

दिन के कारोबार की गति बहुत तेज है। आप दिन भर में विभिन्न लेन-देन खोलेंगे और इसके लिए हर समय आपका ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता होती है। स्विंग ट्रेडिंग के दौरान खोले गए पोजीशन लंबे समय तक चलते हैं और इसलिए उन्हें इतना ध्यान देने की जरूरत नहीं है।

इसके अलावा, अनुमान लगाएं कि आप कितना तनाव ले सकते हैं। आमतौर पर, तेजी से बदलाव और निरंतर फोकस के साथ, दिन के कारोबार को अधिक तनावपूर्ण माना जाता है।

आपकी पसंद जो भी हो, याद रखें कि आपको तैयारी में काफी समय लगाना होगा। आपको मंच, वित्तीय साधनों, संकेतकों के बारे में आवश्यक ज्ञान प्राप्त करने की आवश्यकता है। फिर, आपको एक विकसित करना चाहिए व्यापार रणनीति और विभिन्न बाजार परिदृश्यों में इसका कई बार परीक्षण करके इसकी उपयोगिता साबित करें।

कई दलाल मुफ्त में डेमो खाते पेश करते हैं। यह एक ऐसी जगह है जहां आप अपने पैसे को जोखिम में डाले बिना नए तरीकों का अभ्यास कर सकते हैं।

डेमो ट्रेडिंग खातेनिष्कर्ष

अंत में, यह हमेशा एक व्यक्तिगत निर्णय होता है कि किसे चुनना है। कोई यह नहीं कह सकता कि यह दूसरे से बेहतर है। हालांकि, यह इस खास ट्रेडर के लिए बेहतर हो सकता है।

विभिन्न प्रकार की ट्रेडिंग के बारे में जानें, उन्हें डेमो अकाउंट पर आज़माएं और पता करें कि आपको सबसे अच्छा क्या लगता है।

आम तौर पर, दिन के कारोबार में अधिक लाभ की संभावना होती है क्योंकि व्यापार अधिक बार होता है। यह स्विंग ट्रेडिंग की तुलना में अधिक सक्रिय, समय लेने वाली और तनावपूर्ण भी है, जिसमें अभी भी बहुत अधिक लाभ की संभावना है।

पूंजी की आवश्यकताएं विभिन्न बाजारों और व्यापारिक शैलियों पर निर्भर करती हैं। शुरू करने के लिए न्यूनतम राशि है या नहीं, आपको अपने ब्रोकर से जांच करनी चाहिए।

आपकी प्राथमिकताएं क्या हैं? क्या यह लेख आपको इस निर्णय के करीब ले गया कि किस प्रकार के व्यापार को चुनना है? नीचे टिप्पणी अनुभाग में हमें बताओ।

Need to Know before investing in Stock Market

Zerodha

स्टॉक मार्केट में शुरुआत से पहले हमें तीन प्रश्न अपने आप से जरुर पूछने चाहिए, We need to ask three question before investing in stock market ?

  1. स्टॉक मार्केट में निवेश क्यों करे ?
  2. स्टॉक मार्केट में निवेश कैसे करे ?
  3. स्टॉक मार्केट में निवेश कहा करे ?

आइये सबसे पहले देखते है –

स्टॉक मार्केट में निवेश क्यों करे ?

“Before investing in stock market” सबसे बड़ा प्रश्न – स्टॉक मार्केट में इन्वेस्ट क्यों करे ?

स्टॉक मार्केट में INVEST करने का सबसे बड़ा कारण है कि, आप इसे छोटी से छोटी रकम के साथ भी शुरू कर सकते है,

अगर आपके पास हर महीने 500 या 1000 रुपया भी बचत में है, तो भी आप एक धीमे धीमे करके स्टॉक मार्केट में काफी बेहतर investment कर सकते है,

चाहे वो म्यूच्यूअल फण्ड के जरिये, स्टॉक मार्केट में INDIRECT INVEST हो, या हर महीने 500 या 1000 रूपये के डायरेक्ट शेयर खरीदना हो.

और इस तरह स्टॉक मार्केट इन्वेस्टमेंट, लम्बे समय में आपको बेहतर लाभ देते है, हालांकि इस की कोई भी Guarantee नही दी जा सकती,

मार्केट से रातों रात, अमीर बनने के चक्कर में यहां पर 80 परसेंट से ज्यादा लोग, अपना पैसा गवाते हैं,

और सिर्फ 10 से 20 परसेंट लोग, जो लंबे समय में समझदारी के साथ निवेश करते हैं, वही लोग पैसा बनाते हैं, ….

स्टॉक मार्केट में पैसा गवाने के पीछे का कारण, लोगों का स्टॉक मार्केट के बारे में सही नॉलेज और अनुशासन की कमी ,मनी मैनेजमेंट, तथा भावनाओं पर नियंत्रण की कमी की वजह से होता है,

इसलिए , आपको खुद से यह प्रश्न पूछना होगा कि, आप स्टॉक मार्केट में क्यों नहीं निवेश करना चाहते हैं ?

क्या आप भी स्टॉक मार्केट में निवेश करके रातों रात अमीर बनना चाहते हैं, या आप इसे लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट के रूप में देखते हैं, और कंपाउंडिंग का लाभ लेते हुए Wealth Create करना चाहते हैं….

दूसरा सबसे बड़ा प्रश्न है कि

स्टॉक मार्केट में निवेश कैसे करें

इस दुनिया के सबसे अमीर आदमी वारेन बफे ने कहा था, चाहे कोई कार्य हो या इन्वेस्टमेंट, अगर आपको “उस कार्य” या उस “इन्वेस्टमेंट” के बारे में नहीं पता कि, आप क्या कर रहे हैं? तो उसमें फेल होना लगभग निश्चित है,

Before investing in stock market एक और सबसे बड़ा प्रश्न – स्टॉक मार्केट में इन्वेस्ट कैसे करे ?

इसलिए, स्टॉक मार्केट में निवेश में शुरुआत से पहले, आपको स्टॉक मार्केट सीखने के लिए समय निकालकर निवेश को समझना बहुत जरूरी है ,

आपको स्टॉक मार्केट से पैसे कमाने के लिए, सही मार्किट नॉलेज, मनी मैनेजमेंट, अपनी भावनाओं पर नियंत्रण, अनुशासन और लालच से बचना होगा और LONG TERM WEALTH CREATION के बारे में सोचना होगा,

आप स्टॉक मार्केट में निवेश कैसे करें, इस विषय पर कुछ किताबें पढ़ सकते हैं, ट्रेनिंग ले सकते हैं, और इंटरनेट पर उपलब्ध जानकारियों को पढ़ सकते हैं,

हमारी वेबसाइट www.sharemarkethindi.com भी इसी मकसद से बनाई गई है, ताकि एक आम आदमी सिख सके कि स्टॉक मार्केट में निवेश क्या होता है और इसे कैसे शुरू करें,

हम यहां आपको स्टेप बाय स्टेप यही बताने की कोशिश कर रहे हैं ,कि आप स्टॉक मार्केट में निवेश में कैसे कर सकते हैं ,अगर आपके मन में कोई प्रश्न हो तो आप हमसे नीचे Comment करके पूछ सकते हैं,

अब तीसरा सबसे बड़ा QUESTION है

स्टॉक मार्केट में निवेश कहां करें ?

निवेश करने के लिए, आपको यह समझना होगा कि, स्टॉक मार्केट की किस क्षेत्र में आप को अच्छा नॉलेज है,

जैसे क्या आप इंट्रा डे ट्रेडिंग के बारे में अच्छी तरह से जानते हैं,

या फिर आप LONG TERM INVESTMENT करके WEALTH CREATE करना जानते हैं,

आपको यह समझना कि आप STOCK MARKET में कहा पे फिट होते हैं,

आप अपने नॉलेज के अनुसार कोई भी विकल्प, कभी भी चुन सकते हैं, और उसके अनुसार स्टॉक मार्केट में निवेश कर सकते हैं,

एक नए निवेशक निवेशक के लिए जो इंट्रा डे ट्रेडिंग के बारे में बहुत नहीं जानता है, उसे INTRA DAY TRADING से बचने की सलाह दी जाती है ,

इस तरह आपको अपनी स्टॉक मार्केट इन्वेस्टमेंट की शुरुआत से पहले, ये समझना होगा की आपको मार्केट में हो रहे उतार चढाव समझ आ रहे है या नहीं,

और MARKET से पैसा बनाने के लिए आप जो तरीका इस्तेमाल करना चाहते है, उसके बारे में आपको कितनी जानकारी है ,

एक नए निवेशक को STOCK MARKET में शुरुआत स्विंग ट्रेडिंग या लंबे समय के निवेश के साथ छोटे-छोटे अमाउंट के साथ शुरू करनी चाहिए,

अंत में , Before Investing In Stock Market यानी स्टॉक मार्केट में शुरुआत से पहले, आपको ये डिसाइड करना है,

आपको स्टॉक मार्केट में Trading कहां करनी है,

अगर आपको अपनी नॉलेज डे ट्रेडिंग के लिए पर्याप्त लगती है, तो आप को डे ट्रेडिंग करनी चाहिए,

शेयर ट्रेडिंग कितने तरह के होते हैं?

क्या आपने गौर किया है कि कुछ लोग शेयर खरीदकर अपने डीमैट अकाउंट में रख लेते हैं, जबकि कुछ सुबह खरीदकर दोपहर बाद बेच देते हैं. दरअसल, दोनों अलग-अलग तरह की ट्रेडिंग है. आइए शेयरों में निवेश से जुड़ी अहम बातें जानने की कोशिश करते हैं.

शेयरों की खरीद-बिक्री की सुविधा ऑनलाइन उपलब्ध है. आप किसी ब्रोकरेज फर्म में अपना ट्रेडिंग और डीमैट अकाउंट खोलकर शेयरों की खरीद और बिक्री कर सकते हैं.

आपको यह ध्यान में रखना होगा कि शेयरों में निवेश से काफी जोखिम जुड़ा होता है. अगर आप खुद कंपनियों के नतीजे समझने, उसके शेयरों का मूल्यांकन करने और बाजार की चाल समझ सकते सकते हैं तभी आपको शेयरों में सीधे निवेश करना चाहिए.

किसी कंपनी के शेयर में निवेश करने से पहले उसके कारोबार, शेयरों की सही कीमत (मूल्यांकन) और उसके कारोबार की संभावनाओं को जानना जरूरी है. शेयर बाजार में शेयरों के भाव स्थिर नहीं रहते. आम तौर पर जब शेयर का भाव कम होता है या बाजार में कमजोरी पर शेयर खरीदने के लिए सबसे अच्छा समय माना जाता है.

आपने जो शेयर खरीदा है, जब उसका दाम बढ़ जाए तो उसे आप बेच सकते हैं. शेयर मार्केट में ट्रेडिंग की शुरुआत बहुत कम रकम से की जा सकती है.स्विंग ट्रेडिंग कैसे शुरू कर सकते है?

शेयर ट्रेडिंग कितने तरह के होते हैं?

1. इंट्रा-डे ट्रेडिंग (Intra Day Trading)

इंट्रा-डे ट्रेडिंग में एक ही दिन में शेयर खरीद कर उसे बेच दिया जाता है. मार्केट खुलने के बाद आप शेयर खरीदते हैं और मार्केट बंद होने से पहले उसे बेच देते हैं.
इसे डे-ट्रेडिंग, MIS (Margin Intra day Square off) आदि भी कहते हैं.

Intra Day ट्रेडिंग के लिए ब्रोकर आपके ट्रेडिंग अकाउंट में मौजूद रकम का 20 गुना आप को मुहैया कराता है. इसका मतलब यह है कि आप उधार रकम लेकर शेयर खरीद सकते हैं और उसी दिन बेच कर उसे वापस कर सकते हैं. यह वास्तव में वैसे निवेशकों के लिए जिन्हें बाजार की बहुत ज्यादा समझ होती है.

2. स्कैल्पर ट्रेडिंग ( Scalper Trading)

यह शेयर ट्रेडिंग का ऐसा तरीका है, जिसमें शेयर को खरीदने के 5-10 मिनट के अंदर ही बेच दिया जाता है. स्कैल्पर ट्रेडिंग किसी कानून के आने या आर्थिक जगत की किसी बड़ी खबर आने पर की जाती है.

शेयर मार्केट के पुराने दिग्गज स्कैल्पर ट्रेडिंग करते हैं. इसमें जोखिम सबसे ज्यादा होता है. स्कैल्पर ट्रेडिंग के लिए ब्रोकर कंपनियां मार्जिन मुहैया कराती हैं.

3. स्विंग ट्रेडिंग (Swing Trading) या शार्ट टर्म ट्रेडिंग

स्विंग ट्रेडिंग थोड़े लंबे समय के लिए किया जाता है. इसमें आम तौर पर शेयर खरीदने के बाद उसकी डीमैट अकाउंट में डिलीवरी ले ली जाती है. स्विंग ट्रेडिंग के लिए ब्रोकर कोई मार्जिन मुहैया नहीं कराता है.

अगर आप अपने निवेश के लक्ष्य के हिसाब से 5-10 % लाभ की उम्मीद पर शेयर बाजार में ट्रेडिंग कर रहे है, तो स्विंग ट्रेडिंग से आप पैसे कमा सकते हैं.

4. LONG TERM ट्रेडिंग

जब आप किसी शेयर को खरीद कर लंबी अवधि के लिए रख लेते हैं तो उसे Long term ट्रेडिंग कहते हैं. स्टॉक मार्केट में ट्रेड करने के बाद अगर आप एक निवेशक के रूप में किसी शेयर में 6 महीने से लेकर कुछ साल तक बने रहें तो यह लॉन्ग टर्म ट्रेडिंग है.

अगर आप किसी कंपनी के शेयर को एक, तीन या पांच साल या इससे ज्यादा अवधि के लिए खरीदते सकते हैं. कंपनी के कारोबार में अगर तेजी से वृद्धि हो तो लॉन्ग टर्म ट्रेडिंग में आप बहुत अच्छा लाभ कमा सकते हैं.

आप जिन बड़े निवेशकों के बारे में सुनते हैं वे सभी लॉन्ग टर्म ट्रेडिंग से ही मुनाफा कमाते हैं. इनमें राकेश झुनझुनवाला, पोरिन्जू वेलियथ, डॉली खन्ना जैसे नाम शामिल हैं.

रेटिंग: 4.36
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 546
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *