स्टॉक ट्रेडिंग

कितना सोना है

कितना सोना है

कोई सोच रहा था धनतेरस पर कितना सोना खरीदना है, कोई सोच रहा है, सर्दीयां आ गई कहां सोना है…

कोई सोच रहा था धनतेरस पर कितना कितना सोना है सोना खरीदना है,
कोई सोच रहा है, सर्दीयां आ गई कहां सोना है… Show some love. Spread the word. Tell the world.
LIKE • COMMENT SHARE • ➡ FOLLOW
@pyarishayri to get daily dose of lovely combination of words in Hindi. .
.
.
.
.
#lovequotes #hindi #writersofig #writerscommunity #words #poetsofinstagram #poetrycommunity #writersofinstagram #wordporn #spilledink #poem #poet #writer #poetsofig #writing #poems #writingcommunity #poetryisnotdead #instapoet #creativewriting #writers #poetry #feelings #emotions #instacool #instaphoto #insta #pyarishayri #shayri #shayari

सोना, कितना सोना है

कम नींद लेना जहां स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं होता है, वहीँ ज्यादा नींद लेना भी खतरनाक है. जरूरत से ज्यादा सोने से सेहत पर बहुत बुरा असर पड़ता है और इंसान कई गंभीर बीमारियों का शिकार हो जाता है.

तेज़ रफ़्तार से भागती ज़िंदगी में कोरोना ने ब्रेक लगा दिए हैं. सब लोग बीते पांच महीने से अपने अपने घरों में कैद हैं. इस दौरान घरेलू महिलाओं का काम तो ज़रूर बढ़ गया है, क्योंकि घर के मर्द और बच्चे पूरे समय घर में बने हुए हैं, लिहाज़ा सारा दिन उनके खाने-पीने और अन्य बातों का ख्याल रखना पड़ रहा है, इसलिए उनको आराम का वक़्त कम ही मिल रहा है, लेकिन जो महिलायें कितना सोना है अविवाहित हैं या एकाकी जीवन जी रही हैं, उनके पास आराम का भरपूर समय है. इस समय को वे भरपूर नींद ले कर गुज़ार रही हैं. रात की पूरी नींद तो ले ही रही हैं, दिन में भी चार-पांच घंटे की नींद का मज़ा उठा रही हैं. कामकाजी महिलायें जो वर्क फ्रॉम होम कर रही हैं, वो भी काम ख़त्म करके बिस्तर पर पसर जाती हैं, कि चलो एक नींद ले ली जाए. पुरुषों को तो आराम करने और खर्राटे बजाने का भरपूर समय कोरोना ने मुहैय्या कराया है. अब सुबह जल्दी उठ कर ऑफिस के लिए भागमभाग मचाने की ज़रूरत नहीं है, लिहाज़ा देर तक सोने का लुत्फ़ उठाया जा रहा है. दोपहर में भी यह सोच कर कई घंटे की नींद मार ली जाती है कि ऐसा मौक़ा फिर कहाँ मिलेगा.

कहना गलत ना होगा कि कोरोना काल में लोगों का खाना और सोना खूब हो रहा है और फिर शिकायत कि देखो वज़न बढ़ रहा है, कपड़े तंग हो रहे हैं. अब ऑफिस में तो एकाध बार चाय और दिन में आधे घंटे के ब्रेक में दो रोटी-सब्ज़ी जल्दी-जल्दी निगल कर काम में जुट जाते थे. मगर घर में ठाठ से तीन वक़्त लज़ीज़ खाना, चार-पांच बार चाय-नाश्ता और उस पर भरपूर आराम, वज़न तो बढ़ना ही है. लेकिन क्या आप जानते हैं यह आराम आपको सिर्फ मोटा-थुलथुल ही नहीं बना रहा है, बल्कि यह आपको कई अन्य रोग भी दे सकता है.

घर में आप कितना सोना रख सकते हैं? जान लें नियम, वरना पड़ सकते हैं मुश्किल में!

Gold

नई दिल्ली। लोग आजकल अपना मोटा पैसा गोल्ड में इन्वेस्ट करने लगे हैं। लेकिन कई लोग सोना खरीदने के नियम को नहीं जानते। ऐसे में गोल्ड में इन्वेस्ट करने से पहले नियमों की जानकारी होना आवश्यक है। क्योंकि जब आप सोना खरीदते हैं और उसे घर में रखते हैं तो इसको लेकर भी नियम हैं, जिसका पालन करना जरूरी है।

नियमों का करना पड़ता है पालन

दरअसल, जिस तरह से विदेश से भारत में सोना लाने पर एक लिमिट तय की गई है। उसी तरह घर पर सोना रखने के लिए कुछ नियमों को फॉलो करना पड़ता है। अगर आपके घर पर भी सोना रखा है तो जान लीजिए कि सोना रखने की लिमिट और उसकी प्रमाणिकता को लेकर क्या नियम है? वर्ना आप मुश्किल में फंस सकते हैं।

सोने का बिल रखना आवश्यक है

आपको बता दें कि वैसे तो घर पर सोना रखने को लेकर कोई लिमिट नहीं है, लेकिन, अगर आपसे कोई जिम्मेदार अधिकारी उस सोने के बारे में सवाल करता है, तो आपको उसका जवाब देना होगा कि इतना सोना आपके पास कहां से आया, जिसका लीगल पॉइंट भी होना आवश्यक है। जैसे सोने का बिल, घर पर सोना रखने के वैध कारण आदि।

सालाना 50 लाख से ज्यादा कितना सोना है के इनकम पर देनी पड़ती है जानकारी

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) के अनुसार अगर निवेश या इसके स्रोत को स्पष्ट किया जाए, तो आपको घर में आभूषण रखने पर कोई रोक नहीं है। हालांकि, इनकम टैक्स अगर इसकी जानकारी लेना चाहे तो वो घर में रखे या बैंक लॉकर में रखे सोने के स्रोत की जांच कर सकती है। वहीं, सालाना 50 लाख रूपये से ज्यादा इनकम होने पर घर में रखे सोने की कीमत की जानकारी रिटर्न में देनी होगी। रिटर्न में एसेट्स और लायबिलिटी के विकल्प पर सोने की कीमत भरें।

पुरूष केवल 100 ग्राम सोना ही अपने साथ रख सकते हैं

वहीं अगर किसी के घर पर इनकम टैक्स की छानबीन होती है और सोना पाया जाता है तो उसकी कुछ लिमिट्स हैं। शादीशुदा महिलाओं को 500 ग्राम सोने रखने की छूट है। जबकि 250 ग्राम सोना अविवाहित महिला रख सकती है। वहीं पुरूष 100 ग्राम सोना अपने साथ रख सकते हैं। वहीं, सोने की बिक्री पर कैपिटल गेन्स टैक्स लगता है।

सोने की प्रमाणिकता को लेकर क्या है नियम?

16 जून 2021 से गहनों पर बीआईएस ने हॉलमार्किंग को अनिवार्य कर दिया गया है। हालांकि ये नियम केवल दुकानदारों के लिए हैं। फिलहाल अगर किसी के घर में बिना होलमार्क का सोना रखा है तो वो उस सोने को बेच सकते हैं। दुकानदार बिना होलमार्किग वाले गहने लने से इंकार नहीं कर सकता है। हालांकि ज्वेलर बिना हॉलमार्क वाले गहने नहीं बचेंगे। उन्हें सोना या गहना बेचने से पहले हॉलमार्किंग करवाना पड़ेगा।

घर में आप कितना सोना रख सकते हैं? जान लें नियम, वरना पड़ सकते हैं मुश्किल में!

Gold

नई दिल्ली। लोग आजकल अपना मोटा पैसा गोल्ड में इन्वेस्ट करने लगे हैं। लेकिन कई लोग सोना खरीदने के नियम को नहीं जानते। ऐसे में गोल्ड में इन्वेस्ट करने से पहले नियमों की जानकारी होना आवश्यक है। क्योंकि जब आप सोना खरीदते हैं और उसे घर में रखते हैं तो इसको लेकर भी नियम हैं, जिसका पालन करना जरूरी है।

नियमों का करना पड़ता है पालन

दरअसल, जिस तरह से विदेश से भारत में सोना लाने पर एक लिमिट तय की गई है। उसी तरह घर पर सोना रखने के लिए कुछ नियमों को फॉलो करना पड़ता है। अगर आपके घर पर भी सोना रखा है तो जान लीजिए कि सोना रखने की लिमिट और उसकी प्रमाणिकता को लेकर क्या नियम है? वर्ना आप मुश्किल में फंस सकते हैं।

सोने का बिल रखना आवश्यक है

आपको बता दें कि वैसे तो घर पर सोना रखने को लेकर कोई लिमिट नहीं है, लेकिन, अगर आपसे कोई जिम्मेदार अधिकारी उस सोने के बारे में सवाल करता है, तो आपको उसका जवाब देना होगा कि इतना सोना आपके पास कहां से आया, जिसका लीगल पॉइंट भी होना आवश्यक है। जैसे सोने का बिल, घर पर सोना रखने के वैध कारण आदि।

सालाना 50 लाख से ज्यादा के इनकम पर देनी पड़ती है जानकारी

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) के अनुसार अगर निवेश या इसके स्रोत को स्पष्ट किया जाए, तो आपको घर में आभूषण रखने पर कोई रोक नहीं है। हालांकि, इनकम टैक्स अगर इसकी जानकारी लेना चाहे तो वो घर में रखे या बैंक लॉकर में रखे सोने के स्रोत की जांच कर सकती है। वहीं, सालाना 50 लाख रूपये से ज्यादा इनकम होने पर घर में रखे सोने की कीमत की जानकारी रिटर्न में देनी होगी। रिटर्न में एसेट्स और लायबिलिटी के विकल्प पर सोने की कीमत भरें।

पुरूष केवल 100 ग्राम सोना ही अपने साथ रख सकते हैं

वहीं अगर किसी के घर पर इनकम टैक्स की छानबीन होती है और सोना पाया जाता है तो उसकी कुछ लिमिट्स हैं। शादीशुदा महिलाओं को 500 ग्राम सोने रखने की छूट है। जबकि 250 ग्राम सोना अविवाहित महिला रख सकती है। वहीं पुरूष 100 ग्राम सोना अपने साथ रख सकते हैं। वहीं, सोने की बिक्री पर कैपिटल गेन्स टैक्स लगता है।

सोने की प्रमाणिकता को लेकर क्या है नियम?

16 जून 2021 से गहनों पर बीआईएस ने हॉलमार्किंग को अनिवार्य कर दिया गया है। हालांकि ये नियम केवल दुकानदारों के लिए हैं। फिलहाल अगर किसी के घर में बिना होलमार्क का सोना रखा है तो वो उस सोने को बेच सकते हैं। दुकानदार बिना होलमार्किग वाले गहने लने से इंकार नहीं कर सकता है। हालांकि ज्वेलर बिना हॉलमार्क वाले गहने नहीं बचेंगे। उन्हें सोना या गहना बेचने से पहले हॉलमार्किंग करवाना पड़ेगा।

रेटिंग: 4.65
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 510
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *