ट्रेडिंग संकेतों

क्या क्रिप्टोकरेंसी एक अच्छा निवेश है

क्या क्रिप्टोकरेंसी एक अच्छा निवेश है

क्रिप्टो करेंसी क्या है पैसे कैसे कमाए | Crypto Currency Kya Hai

CryptoCurrency Kya Hai In Hindi: इंटरनेट के माध्यम से आपने क्रिप्टोकरेंसी के बारे में तो आपने सुना ही होगा. पर क्या आप जानते हैं Cryptocurrency क्या है और काम कैसे करती है, क्रिप्टोकरेंसी का अबिष्कार कब हुआ, क्रिप्टोकरेंसी में निवेश कैसे करें, क्रिप्टोकरेंसी से पैसे कैसे कमाए, क्रिप्टोकरेंसी के फायदे व नुकसान क्या हैं तथा भारत में क्रिप्टोकरेंसी का भविष्य क्या होगा.

अगर आपके मन में भी क्रिप्टोकरेंसी को लेकर इसी प्रकार के सवाल आते रहते हैं तो आज के इस लेख के द्वारा हम आपके सवालों का जवाब देने की कोशिस करेंगे.

क्रिप्टोकरेंसी एक डिजिटल करेंसी है जिसे हम छु नहीं सकते हैं, अपने पास नहीं रख सकते या फिर बैंक या तिजोरियों में छुपा नहीं सकते हैं. क्रिप्टोकरेंसी को हम अपने डिजिटल Wallet में रख सकते हैं और ऑनलाइन Transaction के साथ – साथ क्रिप्टोकरेंसी में ट्रेडिंग भी कर सकते हैं .

कई विशेषज्ञ कहते हैं कि क्रिप्टोकरेंसी को भविष्य में स्थाई तौर पर उपयोग में लाया जाएगा, और कई कहते हैं कि क्रिप्टोकरेंसी का कोई भविष्य नहीं है. इसी कारण से दुनिया के कई देशों में क्रिप्टोकरेंसी को illegal माना जाता है तो कई सारे देशों में क्रिप्टोकरेंसी को Legal कर दिया गया है. भारत भी उन्हीं देशों की सूची में है जहाँ क्रिप्टोकरेंसी लीगल है.

क्रिप्टो करेंसी क्या है कैसे काम करती है हिंदी में (CryptoCurrency Kya Hai In Hindi)

क्रिप्टोकरेंसी के बारे में विस्तृत जानकरी प्राप्त करने के लिए इस लेख को पूरा अंत तक जरुर पढ़ें. तो चलिए शुरू करते हैं बिना किसी देरी के आज के इस लेख – क्रिप्टो करेंसी क्या है इन हिंदी.

करेंसी क्या है (What is Currency in Hindi)

करेंसी एक ऐसी धन – प्रणाली होती क्या क्रिप्टोकरेंसी एक अच्छा निवेश है है जिसे किसी देश के द्वारा मान्यता प्राप्त होती है और उसकी कोई Value होती है. करेंसी को उस देश के लोगों द्वारा धन के रूप में प्रयोग किया जाता है, लोग करेंसी के इस्तेमाल से वस्तुएं खरीद सकते हैं.

Currency को हिंदी में मुद्रा कहा जाता है. आजकल लगभग सभी देशों के पास खुद की करेंसी होती है जैसे भारत की करेंसी रुपया है और अमेरिका की डॉलर इसी प्रकार अन्य देशों की भी अलग – अलग करेंसी होती है.

करेंसी को कागज़ या धातु के टुकड़ों (सिक्कों) पर प्रिंट किया जाता है. करेंसी भौतिक रूप में होती है, मतलब कि हम इसे छु सकते हैं, अपने पास रख सकते हैं. इसलिए करेंसी को फिजिकल करेंसी भी कहते हैं. लेकिन क्रिप्टोकरेंसी इससे बहुत अलग है.

क्रिप्टोकरेंसी क्या है (Cryptocurrency in Hindi)

क्रिप्टोकरेंसी एक डिजिटल करेंसी होती है जो कंप्यूटर के अल्गोरिथम पर बनी होती है. यह एक डिजिटल asset है जिसके द्वारा ऑनलाइन चीजों की खरीददारी का काम कर सकते हैं. क्रिप्टोकरेंसी एक स्वतंत्र मुद्रा है, Decentralized होने के कारण इसका मालिक कोई नहीं है और न ही दुनिया के किसी भी देश के सरकार का अधिकार क्रिप्टोकरेंसी में है.

क्रिप्टोकरेंसी Peer to Peer इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम के रूप में कार्य करती है जिसके द्वारा हम इंटरनेट के माध्यम से Service या Good को खरीदते हैं. क्रिप्टोकरेंसी का इस्तेमाल करने के लिए किसी बैंक या सरकार की अनुमति की आवश्यकता नहीं होती है.

Digital Form में होने के कारण क्रिप्टोकरेंसी को छु नहीं सकते हैं और ना ही हम इसे भौतिक रूप में अपने पास रख सकते हैं. क्रिप्टोकरेंसी के द्वारा लोग ऑनलाइन खरीदकारी करने के साथ – साथ क्रिप्टो में ट्रेड करने का काम सकते हैं.

तकनीकी रूप से कहें तो क्रिप्टोकरेंसी Blockchain Technology पर आधारित एक वर्चुअल करेंसी है जो कि Cryptography के द्वारा सुरक्षित है. Cryptocurrency को Digital Currency, Virtual Currency या Electronic Currency के नामों से भी जाना जाता है.

क्रिप्टोकरेंसी का इतिहास (History of Cryptocurrency in Hindi)

क्रिप्टोकरेंसी की शुरुवात 2009 में हुई थी जिसका नाम बिटकॉइन था. जापान के इंजिनियर सतोषी नाकमोतो ने बिटकॉइन को बनाया था. शुरुवात में यह इतना ज्यादा Popular नहीं था, लेकिन धीरे – धीरे क्रिप्टोकरेंसी के रेट बहुत अधिक बढ़ने लगे और देखते ही देखते क्रिप्टोकरेंसी बहुत अधिक महंगी हो गयी जिसके बाद से लोगों का क्या क्रिप्टोकरेंसी एक अच्छा निवेश है ध्यान क्रिप्टोकरेंसी पर गया और लोग इसमें निवेश करने लगे.

2009 में क्रिप्टोकरेंसी की Value 1 रूपये थी लेकिन आज 45 लाख 1 बिटकॉइन की Value है. शुरुवात में क्रिप्टोकरेंसी को illegal कर दिया था लेकिन धीरे – धीरे क्रिप्टोकरेंसी की लोकप्रियता को देखकर कुछ देशों ने इसे Legal कर दिया. अभी भी बहुत सारे ऐसे देश हैं जहाँ क्रिप्टोकरेंसी illegal है. भारत की बात करें तो यहाँ क्रिप्टोकरेंसी पूरी तरह से Legal है

कुछ प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी के नाम

वैसे तो सैकड़ों क्रिप्टोकरेंसी मौजूद हैं पर इनमें से कुछ प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी जो अच्छा Perform कर रहे हैं उनके नाम निम्न हैं –

  • बिटकॉइन (Bitcoin)
  • इथेरयम (Ethereum)
  • रेडकॉइन (Redcoin)
  • सोलाना (Solana)
  • रिप्पल (Ripple)
  • लाइटकॉइन (Litecoin)
  • मोनेरो (Monero)
  • तेथेर (Tether)
  • डोज़ कॉइन (Dogecoin)
  • शीबा एनु (Shiba Coin)

क्रिप्टोकरेंसी के फायदे (Advantage of Cryptocurrency in Hindi)

क्रिप्टोकरेंसी के अनेक सारे फायदे हैं जिनमें से कुछ के बारे में हमने लेख में बताया है –

  • क्रिप्टोकरेंसी एक डिजिटल करेंसी है, इसमें fraud होने की संभावना बहुत कम है.
  • क्रिप्टोकरेंसी फिजिकल फॉर्म में उपलब्ध नहीं रहती है, इसे हम तिजोरी या बैंक में नहीं रख सकते हैं, जिसके कारण क्रिप्टोकरेंसी के चोरी होने, कट – फट जाने या खो जाने की संभावना नहीं होती है.
  • क्रिप्टोकरेंसी में ट्रेड करना बहुत आसान है. आप क्रिप्टोकरेंसी में ट्रेड करके अच्छे पैसे कमा सकते हैं.
  • क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करना अच्छा विकल्प है, क्योंकि इसकी कीमतों में तेजी से उछाल आते हैं.
  • क्रिप्टोकरेंसी को किसी बैंक, सरकार या देश के द्वारा संचालित नहीं किया जाता है. यह एक स्वतंत्र करेंसी है.
  • क्रिप्टोकरेंसी बहुत Secure है क्योंकि इसमें Cryptography Algorithm का इस्तेमाल किया गया है.

क्रिप्टोकरेंसी के नुकसान (Disadvantage of Cryptocurrency in Hindi)

क्रिप्टोकरेंसी के अनेक सारे फायदे होने के कारण इसके कुछ नुकसान भी हैं जो नीचे बताये गए हैं –

क्रिप्टोकरेंसी में आपको कितना करना चाहिए निवेश ?

क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने जा रहे हैं तो बहुत ही छोटी राशि से शुरुआत करें. क्रिप्टोकरेंसी में निवेश की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन बैकिंग से अलग है

क्रिप्टोकरेंसी में आपको कितना करना चाहिए निवेश ?

bitcoin


कम पैसे से शुरुआत करें ?

सबसे पहले यह बात दिमाग में रखें कि जब आप क्रिप्टोकरेंसी में क्या क्रिप्टोकरेंसी एक अच्छा निवेश है निवेश करने जा रहे हैं तो बहुत ही छोटी राशि से शुरुआत करें. जब मैं छोटी रकम की बात कर रहा हूं तो मेरा मतलब है कुछ सौ रुपये (ध्यान रहे कि बिटकॉइन का कुछ हिस्सा भी खरीद सकते हैं).

कम पैसे लगाने पर आप बिटकॉइन में ट्रेडिंग की प्रक्रिया, ट्रांसफर की प्रक्रिया और क्रिप्टोकरेंसी को स्टोर करने के तरीके से वाकिफ हो जाएंगे. जब आप इन सबसे परिचित हो जाएंगे तो बड़े लॉट में कारोबार कर सकते हैं. क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करना, स्टोर करना और पूरी प्रक्रिया को समझना ऑनलाइन बैंकिंग की तरह नहीं होता है, बल्कि काफी अलग होता है.

क्रिप्टो की दुनिया में एक गलती आप पर भारी पड़ सकती है. आपका पैसा डूब सकता है. अगर आपने गलत पते पर बिटकॉइन भेज दिये तो आपको भारी नुकसान हो सकता है. अगर आपने गलत पते पर भेज दिये तो किसी दूसरे व्यक्ति को मिल जाएगा. वह व्यक्ति कह सकता है कि मैं पासवर्ड भूल गया हूं.

उतना ही निवेश करें जितना आप नुकसान झेल सकते हैं
अगर आप किसी रोज सुबह नींद से जागें और आपको पता चले कि आपकी क्रिप्टोकरेंसी बेकार हो गई है तो आपकी प्रतिक्रिय क्या होगी? हो सकता है कि आपको बड़ा झटका लगे. अगर आप बहुत उत्साही क्रिप्टोकरेंसी निवेशक हैं तो आपको अपनी कुल निवेश पोर्टफोलियो का एक फीसदी से ज्यादा इसमें निवेश करने की जरूरत नहीं है.

हिन्दी में शेयर बाजार और पर्सनल फाइनेंस पर नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. पेज लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें

Bitcoin: एक बिटकॉइन की कीमत 40 लाख रुपये के पार, निवेश के लिए इंस्टाल करें ये App

भारत में एक Bitcoin की कीमत शनिवार को 40 लाख रुपये का आंकड़ा पार कर गई. अगर आप बिटकॉइन में निवेश करना चाहते हैं, तो इन Apps इंस्टाल करके बिटकॉइन की ट्रेडिंग कर सकते हैं.

  • बिटकॉइन की ट्रेडिंग हुई आसान
  • बिटकॉइन में पाएं SIP की सुविधा

ट्रेंडिंग तस्वीरें

Bitcoin: एक बिटकॉइन की कीमत 40 लाख रुपये के पार, निवेश के लिए इंस्टाल करें ये App

नई दिल्ली: भारत में बिटकॉइन को कानूनी वैधता मिलने के बाद भारतीय नागरिकों का बिटकॉइन की तरफ रुझान तेजी से बढ़ा है. भारत में एक Bitcoin की कीमत शनिवार को 40 लाख रुपये का आंकड़ा पर कर गई.

कई लोगों के मन में बिटकॉइन में निवेश को लेकर काफी उत्सुकता है. हालांकि उन्हें यह नहीं पता है कि वे बिटकॉइन में कैसे निवेश कर सकते हैं. भारत में बिटकॉइन में निवेश करने के लिए आप इन चुनिंदा Apps का इस्तेमाल कर सकते हैं.

Unocoin: भारतीयों के लिए पसंदीदा App
भारतीय निवेशकों के बीच यह एक लोकप्रिय App है, जिसका इस्तेमाल अभी कई भारतीय यूजर्स बिटकॉइन की ट्रेडिंग के लिए कर रहे हैं. Unocoin तब चर्चा में आया था, जब इसके को-फाउंडर्स ने बैंगलोर के एक मॉल में एक बिटकॉइन ATM लगाया था.

इस ATM किओस्क मशीन के जरिए आप अपने बिटकॉइन अकाउंट से पैसे निकाल सकते थे और इसमें पैसे जमा भी कर सकते थे. बाद में इस ATM को अवैध करार देते हुए कोर्ट ने इसके फाउंडर्स पर कार्रवाई भी की थी.

इस App के माध्यम से आप बिटकॉइन की ट्रेडिंग कर सकते हैं. इस एप पर यूजर को बिटकॉइन खरीदने एवं बेचने दोनों का ही विकल्प प्रदान किया जाता है.

WazirX: Users के लिए है Safe
भारत में बिटकॉइन की ट्रेडिंग के लिए यह सबसे विश्वासपूर्ण App मानी जाती है. यह App भारत में 8 मार्च, 2021 को लांच हुई थी. यह प्लेटफॉर्म अपने यूजर्स को अपनी बेहतरीन टेक्नोलॉजी के दम पर बड़ी संख्या में लेन-देन करने का विकल्प प्रदान करता है.

इस प्लेटफॉर्म पर जाकर आप कभी भी बिटकॉइन खरीद अथवा बेच सकते हैं. इस प्लेटफॉर्म पर रजिस्ट्रेशन के समय ही यूजर की KYC भी की जाती है. जिसके तहत यूजर को अपनी पहचान दर्शाने वाले दस्तावेज प्रस्तुत करने होते हैं.

BuyUCoin: यहां SIP की तरह कर सकते हैं निवेश
यह क्रिप्टोकरेंसी की ट्रेडिंग के लिए एक बेहतरीन प्लेटफॉर्म है. इस प्लेटफॉर्म पर आप बिटकॉइन के अलावा कई अन्य क्रिप्टोकरेंसी की ट्रेडिंग भी कर सकते हैं. आप इस प्लेटफॉर्म पर बिटकॉइन में ट्रेडिंग के अलावा SIP की तरह भी निवेश कर सकते हैं, जिससे आपका पैसे डूबने का खतरा काफी कम हो जाता है.

BuyUcoin ने अपने प्लेटफॉर्म पर एक सैंडबॉक्स सिस्टम तैयार किया है, जो भारत में ट्रेड होने वाली हर तरह की क्रिप्टोकरेंसी पर अपनी नजर बनाए रखता है.

CoinDCX: UPI और IMPS की सुविधा

बिटकॉइन की ट्रेडिंग के लिए इस्तेमाल होने वाली यह एप भारत में 7 अप्रैल, 2018 में लांच हुई थी. यह App काफी यूजर फ्रेंडली है. यह App यूजर को एक सुरक्षित वित्तीय लेन-देन का प्लेटफॉर्म प्रदान करती है.

इस प्लेटफॉर्म पर आप बिटकॉइन खरीदने एवं बेचने के अलावा पैसे ट्रांसफर करने कीई सुविधा का लाभ भी उठा सकते हैं. इस एप में UPI और IMPS के इस्तेमाल की सुविधा भी प्रदान की गई है.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड क्या क्रिप्टोकरेंसी एक अच्छा निवेश है क्या क्रिप्टोकरेंसी एक अच्छा निवेश है करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

बिटकॉइन, डॉजकॉइन, इथेरियम सब धड़ाम; जानें वजह, अब क्या करें निवेशक?

जानकारों के मुताबिक, यह एक हेल्दी करेक्शन हो सकता है और निवेश के लिए अच्छा मौका बन सकता है.

बिटकॉइन, डॉजकॉइन, इथेरियम सब धड़ाम; जानें वजह, अब क्या करें निवेशक?

क्रिप्टो बाजार की हलचल ने एक बार फिर निवेशकों को हैरान कर दिया है. बुधवार को सभी क्रिप्टो करेंसी के भाव में बड़ी गिरावट को देखने को मिली. बिटकॉइन, इथेरियम टूटकर अपने कुछ महीनों के न्यूनतम स्तरों पर पहुंच गए हैं. हालांकि, मार्केट अब थोड़ा संभला है, निवेशकों का चिंतित होना स्वाभाविक है. आइए नजर डालते हैं गिरावट की वजहों पर और समझते हैं निवेशकों को क्या रणनीति अपनानी चाहिए.

रॉयटर्स के मुताबिक, बीते दिन एक समय पर क्रिप्टोकरेंसी बाजार का मार्केट कैप 1 ट्रिलियन डॉलर के करीब नीचे जा चुका था.

जनवरी के स्तर पर पहुंच गया था बिटकॉइन:

क्रिप्टो बाजार की बड़ी हलचल से बिटकॉइन अछूता नहीं रहा. बीते 24 घंटों में ही करीब 30% गिरकर बिटकॉइन एक समय 30,681 डॉलर तक पहुंच गया था. यह इस साल जनवरी के बाद का न्यूनतम स्तर है. बिटकॉइन के शिखर स्तर 64,800 डॉलर से तुलना करे तो यह करीब 55% की गिरावट है. बता दें कि फरवरी में जब टेस्ला द्वारा बिटकॉइन में निवेश की बात सामने आई थी, उस समय इसकी कीमत करीब 38,000 डॉलर थी. बिटकॉइन गिरकर इस स्तर से भी काफी नीचे पहुंच गया था.

बिटकॉइन पर क्यों है बवाल, समझिए क्यों बंटी दुनिया?

बिटकॉइन पर क्यों है बवाल, समझिए क्यों बंटी दुनिया?

मस्क के ट्वीट ने दी थोड़ी राहत:

20 मई को सुबह 7 बजे तक, बिटकॉइन थोड़ा संभलते हुए 37,200 के करीब व्यापार कर रहा है. यह पिछले 24 घंटों में करीब 15% की कमजोरी है. बिटकॉइन की कीमत में इस क्या क्रिप्टोकरेंसी एक अच्छा निवेश है मामूली रिकवरी की वजह एलन मस्क के ट्वीट को बताया जा रहा है. मस्क ने बुधवार की रात ‘टेस्ला एक पास है- और एक डायमंड इमोजी’ ट्वीट किया थी. इस ट्वीट के बाद बिटकॉइन में खरीदारी बढ़ी और यह करेंसी दिन के न्यूनतम से करीब 20% चढ़ी.

इथेरियम, बाइनेंस कॉइन का भी यही हाल:

बिटकॉइन के अलावा अन्य प्रचलित क्रिप्टो करेंसी जैसे इथेरियम, बाइनेंस कॉइन और डॉजकॉइन, इत्यादि भी बड़ी गिरावट के साथ व्यापार कर रहे हैं. इथेरियम अपने शिखर स्तर 4,362 डॉलर की तुलना में करीब 36% नीचे रहते हुए 2,850 डॉलर पर व्यापार कर रहा है. इसी तरह बाइनेंस कॉइन भी बीते 24 घंटों में करीब 30% टूटा है. Dogecoin का भाव 0.34 डॉलर है जो कि करेंसी के सर्वोच्च स्तर से करीब 55% की गिरावट है.

बिटकॉइन Vs इथेरियम Vs निफ्टी: कहां मिल रहा ज्यादा मुनाफा?

बिटकॉइन Vs इथेरियम Vs निफ्टी: कहां मिल रहा ज्यादा मुनाफा?

इस गिरावट के पीछे कई वजहें:

क्रिप्टो बाजार में क्या क्रिप्टोकरेंसी एक अच्छा निवेश है इस बड़ी बिकवाली के पीछे कई अहम फैक्टर हैं.

मार्केट में वर्तमान कमजोरी की सबसे बड़ी वजह चीन में क्रिप्टोकरेंसी संबंधी नए प्रतिबंध हैं. चीन ने वित्तीय संस्थाओं और भुगतान कंपनियों के क्रिप्टो संबंधी सुविधा देने पर पूरी तरह से रोक लगा दी है. ऑर्डर में स्पेकुलेटिव क्रिप्टो ट्रेडिंग को लेकर भी निवेशकों को चेताया गया है. इसके साथ ही इशारा किया गया है कि वर्चुअल करेंसी की अपनी कोई रियल वैल्यू नहीं होती. डर यह भी है कि अन्य देश भी चीन से सीख लेकर इस दिशा में आगे बढ़ सकते हैं.

टेस्ला ने हाल में बिटकॉइन को भुगतान के तौर स्वीकार करने का अपना फैसला वापस ले लिया था. टेस्ला ने बिटकॉइन के इको फ्रेंडली न होने को इसकी वजह बताया था. इसके बाद क्रिप्टो बाजार में बड़ी हलचल हुई थी. चर्चा यह भी थी टेस्ला ने अपनी क्रिप्टो होल्डिंग्स बेच दी है. हालांकि, इन अटकलों को खारिज किया गया था. क्रिप्टो बाजार में इस कारण बड़ी प्रॉफिट बुकिंग देखी गई थी.

बीते महीनों के क्रिप्टो बाजार में बेतहाशा तेजी ने इस मार्केट के ओवर वैल्यूएशन के संकेत दिए थे. ऐसे में नेगेटिव सेंटीमेंट के समय निवेशकों द्वारा बड़ी प्रॉफिट बुकिंग देखी जा रही है. क्रिप्टो मार्केट में इस वर्ष टेस्ला के निवेश समेत अनेक कारणों से रूचि बढ़ी, जिससे यह चढ़ा था.

टेक्निकल फैक्टर का भी इस बड़े सेल-ऑफ (बिक्री) में बड़ा योगदान रहा. बिटकॉइन ट्रेड के दौरान अपने 200 दिन के मूविंग एवरेज के नीचे आ गया था. इस टेक्निकल इंडिकेटर को काफी अहम माना जाता है.

क्रिप्टो बाजार के इस क्रैश का असर क्रिप्टो ट्रेडिंग एक्सचेंज coinbase के शेयर पर भी पड़ा. बाजार बंद होते समय यह शेयर करीब 6% नीचे रहा.

रेटिंग: 4.17
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 399
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *